Exclusive News – साइबर अपराधियों के निशाने पर आए बिहार के सीनियर आईपीएस अधिकारी ADG (मुख्यालय) जितेंद्र कुमार, लोगों से की यह अपील।

डेस्क। तकनीक के इस दौर में साइबर अपराधियों के निशाने पर आम लोग तो थे ही अब बिहार पुलिस के बड़े अधिकारी भी आ गए हैं। एक के बाद एक कई सीनियर आईपीएस अधिकारियों के नाम से सोशल नेटवर्क पर फर्जी अकाउंट बनाए गए हैं और उनके फ्रेंड लिस्ट में शामिल लोगों से रुपयों की मांग की जा रही है। अब इस कड़ी में सीनियर आईपीएस अधिकारी जितेंद्र कुमार का भी नाम जुड़ गया है, वे वर्तमान में बिहार पुलिस मुख्यालय के एडीजी के पद पर पदस्थापित हैं।
साइबर अपराधियों ने इनके नाम और फोटो का गलत इस्तेमाल करके सोशल नेटवर्क पर फर्जी अकाउंट बनाया है और काफी सारे लोगों को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजा है। जिन लोगों ने फर्जी अकाउंट से आए फ्रेंड रिक्वेस्ट को एक्सेप्ट किया, उनसे रुपए के डिमांड किए गए।

जब एडीजी जितेंद्र कुमार को फर्जी अकाउंट के बारे में जानकारी हुआ तो उन्होंने इसकी जानकारी सबसे पहले आर्थिक अपराध शाखा और साइबर सेल के एडीजी नैयर हसनैन खान को दी। इस मामले में मंगलवार को उनके तरफ से एक शिकायत की गई। अब इस मामले की जांच साइबर सेल की टीम करेगी। इधर, एडीजी जितेंद्र कुमार ने सोशल नेटवर्क पर अपनी ओरिजनल आईडी के माध्यम से अपील कर लोगों से अलर्ट रहने को कहा है। उन्होंने कहा कि उनके नाम और तस्वीर का गलत इस्तेमाल कर साइबर अपराधी फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज कर रुपयों की मांग कर रहे हैं। इससे बचने की जरूरत है।

बहरहाल, एडीजी मुख्यालय के नाम पर फर्जीवाड़ा किन लोगों ने की? पुलिस अधिकारियों के नाम का गलत इस्तेमाल क्यों कर रहे हैं? इस बात का खुलासा अब साइबर सेल की टीम की जांच और अपराधियों के पकड़े जाने के बाद ही हो पाएगा।

78 total views, 1 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »