चाकंद थाना को अभी तक अपना भवन नहीं। धीरज गुप्ता,वसिम अंसारी की रिपोर्ट

चाकंद थाना को अभी तक अपना भवन नहीं।
धीरज गुप्ता,वसिम अंसारी की रिपोर्ट
बेलागंज 2017 में ओपी से थाना में अपग्रेड हुए चाकन्द थाने को अपना भवन नसीब नही होने से इसका संचालन बिजली पावर सब-स्टेशन में हो रहा है बिजली पावर सब-स्टेशन भवन में थाना के संचालन से एक तरफ जहां बिजलीकर्मियों को जगह की कमी का सामना करना पङ रहा है वहीं,दूसरी ओर पुलिस पदाधिकारियों और जवानों के समक्ष कार्यस्थल और आवासीय समस्याओं की दिक्कतों का सामना करना पङ रहा है जानकारी के अनुसार, चाकन्द ओपी की स्थापना वर्ष-1985 में हुआ था।शुरुआत में इसका संचालन चाकन्द जनता पुस्तकालय के भवन में किया गया है कालंतर में इसे बिजली पावर सब-स्टेशन में स्थानान्तरित किया गया और तब से चाकन्द ओपी का सारे कार्य यही होने लगा।राज्य सरकार के अधिसूचना पर वर्ष-2017 में इसे अपग्रेड करते हुए थाना बनाया गया है लेकिन,थाना बनने के बाद भी इसका संचालन पावर सब-स्टेशन में किया जा रहा है चाकन्द थाने में वर्तमान में तीन एसआई,तीन एएसआई,एक मुंशी, एक ड्राईवर और लगभग डेढ़ दर्जन जवानों की तैनाती है जबकि, पावर सब-स्टेशन के एक छोटे से कमरे में एसएचओ का कार्यालय है जबकि, यहां पदस्थापना के दौरान लालबहादूर यादव ने जनसहयोग से एक कमरे का निर्माण कराया था जिसमें यहां पदस्थ पुलिस पदाधिकारियों का रहने का आवास है जबकि,साजिद हुसैन एसएचओ के कार्यकाल में जनसहयोग से जवानों के लिए बैरक का निर्माण कराया गया था।इधर,वर्तमान एसएचओ सुनील कुमार ने भी जनसहयोग से थानाध्यक्ष के आवास के लिए एक कमरे का निर्माण कराया है।

45 total views, 1 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »