Breaking News

पटना :- चौदह लाख की रिश्वत लेते, पथ निर्माण विभाग, कार्यपालक अभियंता व लेखा लिपिक, निगरानी टीम द्वारा रंगे हाथ गिरफ्तार !

 

पटना :- चौदह लाख की रिश्वत लेते, पथ निर्माण विभाग, कार्यपालक अभियंता व लेखा लिपिक, निगरानी टीम द्वारा रंगे हाथ गिरफ्तार !

धीरज कुमार झा

POSTED BY:- UMAR FAROOQUE

पटना :- निगरानी अन्वेषण ब्यूरो की मुख्यालय टीम के द्वारा आज दिनांक 08-06-19 को निगरानी थाना कांड सं०-023/19 दिनांक 08-06-19 में (1) सुरेश प्रसाद सिंह, कार्यपालक अभियंता, पथ निर्माण विभाग, पटना पश्चिमी, पटना एवं (2) शशिभूषम कुमार, लेखा लिपिक, कार्यपालक अभियंता कार्यालय, पथ निर्माण विभाग, पटना पश्चिमी, पटना को 14,00,000/- रु० रिश्वत लेते कार्यपालक अभियंता सुरेश प्रसाद सिंह के पश्चिमी पटेल नगर, पटना के प्रथम तल पर स्थित आवास से रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया।

परिवादी श्री अखिलेश कुमार जायसवाल द्वारा निगरानी अन्वेषण ब्यूरो में शिकायत दर्ज कराया गया था कि आरोपी (1) सुरेश प्रसाद सिंह, कार्यपालक अभियंता, पथ निमार्ण विभाग, एवं शशिभूषण कुमार लेखा लिपिक, कार्यपालक अभियंता कार्यालय, पथ निमार्ण विभाग पटना, द्वारा विक्रम भाया गोणवा मोड़ से अमहरा तक सड़क निर्माण कार्य से सबंधित 44 करोड़ रुपये के कार्य के एकरारनामा का 1% राशि यानी 44 लाख रुपये की रिश्वत की मांग की गई जिसमें परिवादी द्वारा काफी अनुभव विनय करने पर 0.8% राशि यानी 32,00,000/- रुपये (बत्तीस लाख) पर रिश्वत लेकर अग्रिम बिल का भुगतान करने को तैयार हुए हैं।

ब्यूरो द्वारा सत्यापन कराया गया एवं सत्यापन के क्रम में आरोपियों द्वारा 32,00,000/- रु० रिश्वत की मांग करते हुए प्रथम क़िस्त के रूप में 14,00,000/- रु० पर काम करने के लिए तैयार हुए। इस प्रकार रिश्वत मांगे जाने का प्रमाण पाया गया। आरोप सही पाये जाने के पश्चात उपरोक्त कांड अंकित कर ट्रेप की कार्रवाई करने हेतु अनुसंधानकर्ता श्री गोपाल पासवान, पुलिस उपाधीक्षक के नेतृत्व में एक धावादल का गठन किया गया, जिनके द्वारा अग्रतर कार्रवाई के क्रम में अभियुक्त-(1) सुरेश प्रसाद सिंह एवं (2) शशिभूषण कुमार को 14,00,000/- रु० रिश्वत लेते हुए कार्यपालक अभियंता सुरेश प्रसाद सिंह के पश्चिमी पटेल नगर, पटना के प्रथम तल पर स्थित आवास से रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया। तत्पश्चात एक अन्य टीम के द्वारा सुरेश प्रसाद सिंह के पटना स्थित आवास की तलाशी के क्रम में 2,36,00,000/- रु० (दो करोड़ छत्तीस लाख) रु० से अधिक की राशि भी बरामद की गई तथा पटना में तीन फ्लेट, एक मकान, नोयडा में एक फ्लैट, रूपसपुर, पटना में दो फ्लेट, बिहटा में 14 कट्ठा जमीन अग्रीमेंट के कागजात एवं 26 एल०आई०सी पॉलिसी में निवेश से संबंधित अभिलेख बरामद किया गया साथ ही इनके पास एक डस्टर कार एवं एक स्कार्पियो गाड़ी पाया गया।

अभियुक्तों को पूछताछ के उपरांत माननीय न्यायालय, निगरानी-1,पटना में उपस्थापित किया जाएगा।

69 total views, 1 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »