Breaking News

नगर विकास विभाग के प्रधान सचिव और जिलाधिकारी गया के हस्तक्षेप से नगर निगम गया का मामला सूलझा।

नगर विकास विभाग के प्रधान सचिव और जिलाधिकारी गया के हस्तक्षेप से नगर निगम गया का मामला सूलझा।
धीरज गुप्ता की रिपोर्ट गया
गया: कई दिनों से मेयर-उपमेयर और नगर आयुक्त के बीच चल रहा आरोप-प्रत्यारोप शनिवार को उच्चस्तरीय पहल के बाद सुलझ गया. सरकार के प्रधान सचिव के हस्तक्षेप के बाद तीनों में आपसी सहमति और जिलाधिकारी के पहल से मामला शांत हुआ है प्लास्टिक बैन को लेकर हुआ था विवाद यह पूरा मामला नए नगर आयुक्त कंचन कपूर की ओर से प्लास्टिक बैन को लेकर था बताते चले की मेयर- उपमेयर पर घोटाले के आरोप लगे थे और उन्होंने सशक्त कमिटी के बैठक बुलाकर नगर आयुक्त को हटाने का आदेश पारित कर दिया था दोनों तरफ से आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी हो गया था तब बाद में पूरा मामला सरकार के कानों तक पहुंचा और नगर विकास विभाग के सरकार के प्रधान सचिव के हस्तक्षेप से डीएम ने पहल कर इस विवाद को सुलझाया.मोहन श्रीवास्तव,उप मेयरउपमेयर ने दी जानकारी देते हुए उपमेयर मोहन श्रीवास्तव ने बताया कि विगत कई दिनों से जो विवाद चल रहा था,जो शनिवार को उच्चस्तरीय हस्तक्षेप और डीएम के पहल से खत्म हो गया है और सशक्त समिति के बैठक में नगर आयुक्त के विरोध में जो निर्णय लिया गया था, उससे फिलहाल स्थगित कर दिया गया है उपमेयर ने कहा कि जनहित के कार्य में बाधा न पहुंचे इसे लेकर यह सुलह जरूरी था।

66 total views, 1 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »