Breaking News

*हिम्मते मरदां , मददे ख़ुदा ! ——प्रदीप देव फारबिसगंज के जनता की सेवा सच्चे मन से करने के लिए निर्दलीय चुनाव लड़कर खुद को करेंगे साबित।*

फारबिसगंज के जनता की सेवा अगर सच्चे मन से करना है तो निर्दलीय चुनाव लड़कर खुद को साबित करें । जनता जनार्दन हीं असली भाग्य विधाता होते हैं । ना कि कोई पार्टी ।
भाग्य भी उसी का साथ देती है जो मैदान में लड़ने का माद्दा रखता हो । किसी पार्टी के टिकट का मोहताज न हो । देश भर के कई सांसद और विधायक भी निर्दलीय चुनाव जीतने का इतिहास बना चुके हैं । इतिहास बार – बार दुहराने का भी अपना एक अलग इतिहास रहा है । इसका आनंद भी कुछ अलग हीं होता है ।
इसलिये मौका को हाथ से न जाने दें । साहसी व्यक्ति कभी हार नहीं मानते । विजयश्री भी उसी के गले का वरण करती है जो हिम्मत के साथ मैदान में होते हैं न की मैदान छोड़ कर भाग जाते हैं ।

401 total views, 3 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »