11 केवी तार में काम करने के दौरान बिजली मिस्त्री व सहायक की मौत

उमर फारूक/किशनगंज

किशनगंज:- लोकसभा चुनाव 2019, 18 अप्रैल बृहस्पतिवार किसी को याद रहे या ना रहे परंतु किशनगंज प्रखंड के महीनगांव पंचायत व दौला पंचायत के दो परिवार को हमेशा से याद रहेगा। गुरुवार को महीनगांव पंचायत के डीलर टोला गांव के ज़ाकिर हुसैन व दौला पंचायत के फुलवारी हाजी पड़ा के बिजली मिस्त्री निजामुद्दीन का 11 केवी तार को ठीक करने के दौरान मौत हो गई। बता दें कि निज़ामुद्दीन बिजली विभाग किशनगंज पश्चिम पाली पॉवर हाउस चार नम्बर फीडर में मनवबल के पद पर कार्यरत थे। गुरुवार की सुबह लगभग 10 बजे लाइन ब्रेकडाउन हो जाने से लाइन बंद हो गया। जिसको लेकर ग्रमीण विद्धु कनीय अभियंता द्वारा बिजली मिस्त्री पर लाइन को जल्द से जल्द ठीक करने को कहा गया। चूंकि हरहाल में 18 अप्रैल को लाइन बंद न हो इसके लिए जिलाधकारी हिमाशु शर्मा के द्वारा भी बिजली मिस्त्री को निर्वाचन के दिन का कार्ड निर्गत किया गया था। लाइन ब्रेकडाउन होने का कारण पता चलने पर बिजली मिस्त्री निज़ामुद्दीन ने कनीय अभियंता को इसकी सूचना दी और कहा कि सर लाइन को सटडाउन किया जाए फोल्ड मिल गया है। मकई के खेत मे 11 केवी में तार गिरा हुआ है। बिजली मिस्त्री और उसके साथ एक हेल्फर ज़ाकिर हुसैन दोनो 11 केवी का तार को जोड़ ही रहे थे कि लाइन को चालू कर दिया गया जिससे घटना स्थल पर ही ज़ाकिर हुसैन हेल्फर की मौत हो गई और बिजली मिस्त्री निज़ामुद्दीन बुरी तरह जल गया ग्रामीणों द्वारा आनन फानन में सदर अस्पताल लेजाया गया जहाँ से उसकी हातात को गंभीर देखते हुए बेहतर इलाज हेतु पूर्णिया रेफर कर दिया था । जहाँ इलाज के दौरान आज सुबह उनकी भी मौत हो गई। ग्रामीणों के अनुसार निज़ाम सट डाउन तो लिया पर वापस नही किया तो किसके कहने पर लाइन चालू किया गया। यह अनहोनी नही बल्कि परिपालन मर्डर है।

बिजली विभाग के कनीय अभियंता नही उठाए फोन।

जब इसकी जानकारी हमने कनीय अभियंता से उसके मोबाइल पर फोन किया तो उन्होंने फोन नही उठाया। उसके बाद जब पीएसएस पर ड्यूटी पर तैनात मोहम्मद आजम से दूरभाष पर बात की तो उन्होंने कहा कि चुनाव को लेकर सट डाउन लेने और देने का काम कनीय अभियंता का था निज़ाम मिस्त्री मेरे बड़े भाई समान थे अब कनीय अभियंता ही बता सकता है कि निज़ामुद्दीन जब लाइन बंद कराया तो चालू किसने और किसके कहने पर किया।सारी जिम्मेदारी कनीय अभियंता की है उसके लापरवाही के कारण दो लोगो का जान चला गया।

पोस्टमार्टम के बाद ज़ाकिर को गुरुवार को ही किया सुपुर्दे खाक।

घटना की सूचना पुलिस को मिलने के बाद पुलिस ज़ाकिर हुसैन का पोस्टमार्टम कराया उसके बाद शव को परिजनों के जवाले कर दिया उसके बाद उसको गुरुवार को ही सुपुर्दे खाक कर दिया गया।

इलाज के दौरान बिजली मिस्त्री निज़ामुद्दीन का पूर्णिया के अस्पताल में मौत।

 

घटना को लेकर आसपास के ग्रामीणों में बिजली विभाग के कर्मचारियों व अधिकारियों के प्रति काफी गुस्सा तो था ही जब लोगो को पता चला कि निज़ामुद्दीन का भी इलाज के दौरान मौत हो गया है। लोगो मे बिजली विभाग के प्रति गुस्सा फूट पड़ा और लोगो ने एक जुट होकर बिजली विभाग के खिलाफ थाना में आवेदन देने के बाद दोषियों पर कार्यवाई करने की मांग करने लगे । 4 जी विधायक के नाम से मशहूर कोचाधामन विधानसभा के विधायक मास्टर मुजाहिद आलम किशनगंज टाउन थाना पहुंच कर थाना प्रभारी मनीष कुमार से बात कर दोषियों को जल्द से जल्द जांच कर कार्यवाही करने को कहा। वही लोगो का मांग था कि इतना बड़ा हादसा हो गया परंतु अबतक बिजली विभाग से कोई भी अधिकारी सुध लेने नही आया अब विद्धुत अभियंता को थाने में बुलाया जाए लोगो की मांग को देखते हुए विधायक ने विद्धुत अभियंता को थाना में बुलाने की कोशिश की परंतु वह नही पहुंचे। जबकि थाना प्रभारी मनीष कुमार ने भी कहा कि लोग सांत है सिर्फ आप आएं और लोगो को समझा दे पुलिस आपके साथ है फिर भी विधुत अभियंता नही पहुंचे।

जिला पदाधिकारी हिमांशु शर्मा ने कॉल डिटेल निकालकर कार्यवाई करने का दिया अस्वासन।

विधायक कोचाधामन मुजाहिद आलम,जिला अध्यक्ष सपा हबीबुर्रहमान, मुखिया राजेन्द्र पासवान,मृतक के परिजनों को लेकर जिला पदाधिकारी हिमांशु शर्मा से मुलाकात कर सारी घटनाओं के बारे में जानकारी देते हुए परिजनों को उचित मुआवजा एवं दोषियों पर कार्रवाई करने की मांग की जिला पदाधिकारी ने कहा कि कॉल डीटेल्स निकाला जाएगा बिजली मिस्त्री निजामुद्दीन द्वारा शट डाउन लिया गया था परंतु वापस किया या नहीं किया यह जांच का विषय है अब तो कॉल डिटेल्स निकालने के बाद ही यह पता चल पाएगा की दोषी कौन है अगर शट डाउन निजामुद्दीन द्वारा लिया गया तो वापस किसने किया उन्हीं विधायक मुजाहिद आलम ने बिजली विभाग के अधिकारियों से बात कर ₹400000 का मुआवजा दिलाने की भी परिजनों को बात कही।

81 total views, 1 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »