मौसम विभाग की भविष्यवाणी सच साबित हुई , मंगलवार को सीमावर्ती फारबिसगंज अनुमंडलीय क्षेत्र में रात नौ बजकर पचास मिनट पर तेज हवा के साथ आंधी तूफान प्रारम्भ हो गयी। दस मिनट बाद हीं गरज के साथ वारिश भी प्रारम्भ हो गयी है। इस न्यूज नीचे लिंक खोलकर पढ़कर जाने अंचल स्तर के अधिकारियों की निष्क्रियता का प्रमाण ! जिला आपदा विभाग के निर्देश के बाबजूद जान माल की रक्षा व फसलों आदि की क्षति से बचाव के लिये प्रचार व प्रसार नहीं कराना क्या जुर्म नहीं है ?

प्रदीप कुमार साह की कलम से

मौसम विभाग की भविष्यवाणी सच साबित हुई , मंगलवार को सीमावर्ती फारबिसगंज अनुमंडलीय क्षेत्र में रात नौ बजकर पचास मिनट पर तेज हवा के साथ आंधी तूफान प्रारम्भ हो गयी। दस मिनट बाद हीं गरज के साथ वारिश भी प्रारम्भ हो गयी है। सोमवार की रात हीं इस मामले में डाले गए पोस्ट नीचे पढ़कर जाने अंचल स्तर के अधिकारियों की निष्क्रियता का प्रमाण ! जिला आपदा विभाग के निर्देश के बाबजूद जान माल की रक्षा व फसलों आदि की क्षति से बचाव के लिये प्रचार व प्रसार नहीं कराना क्या जुर्म नहीं है ?

मौसम ने बदली करवट ,मंगलवार को वज्रपात, आंधी तूफान व भारी बारिश की अररिया जिले में आशंका , निर्देश के बाबजूद जनहित में अंचल स्तर पर प्रचार प्रसार नहीं होना अधिकारियों की कार्यशैली का परिचायक !
—————————————–
अररिया जिला आपदा प्रबंधन विभाग ने मंगलवार को भारी वर्षा , आंधी तूफान और वज्रपात की संभावना व्यक्त करते हुए अंचल स्तर पर इस बावत प्रचार प्रसार करने का निर्देश सोमवार को बेतार संदेश भेजकर दिया है ताकि आम जनता को सचेत एवं सावधान किया जा सके ,मगर फारबिसगंज अनुमंडलीय क्षेत्रों में जिला आपदा पदाधिकारी के आदेश का पालन नहीं किया जाना अधिकारियों की कार्यशैली पर सवाल खड़ा कर रहा है ?
उल्लेखनीय है कि जिला आपदा पदाधिकारी अररिया ने ताजा आदेश भारतीय मौसम विज्ञान विभाग से प्राप्त सूचना के आधार पर दिया है।जिसकी प्रतिलिपि जिला पदाधिकारी वैद्यनाथ यादव,अपर समाहर्ता अररिया ,फारबिसगंज के एसडीओ रविप्रकाश के अलावे अररिया अंचल को छोड़कर जिले के सभी अंचल पदाधिकारियों को सूचनार्थ व आवश्यक कारवाई हेतु प्रेषित किया है। इसके वाबजूद किसी भी प्रकार का जनहित में प्रचार प्रसार नहीं होने से स्पस्ट है कि अररिया जिला केवल कागजी घोड़ा दौड़ाने में अव्वल व पारंगत हो चुकी है।अधिकारियों का जनकल्याण के कार्यों के प्रति रुचि नहीं है ।

185 total views, 1 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »