Breaking News

अररिया :-धर्म गुरु व शिक्षाविदों ने कहा रमजान में टीका लेने से रोजा नहीं होता खंडित, रोजेदार को टिका लगाने के लिए किए गए है जरूरी इंतजाम।

रोजेदारों को टीका लगाने के लिये जिलाधिकारी के निर्देश पर किये गये हैं जरूरी इंतजाम।

सदर अस्पताल व फारबिसगंज पीएचसी में संध्या कालीन टीकाकरण सत्र का संचालन।

हरेन्द्र कुमार की रिपोर्ट

अररिया :-रोजा के दौरान कोरोना का टीका लेने से रोजा खंडित नहीं होता है। मुस्लिम धर्मगुरु व शिक्षाविदों ने इसे लेकर समुदाय के लोगों को जागरूक करते हुए अधिक से अधिक लोगों से टीका लगाने की अपील की है। धर्मगुरु व शिक्षाविदों के आह्वान को गंभीरता से लेते हुए जिला स्वास्थ्य विभाग भी इसे समाज में व्यापक तौर पर प्रचारित व प्रसारित करने की मुहिम में जुटा है। गौरतलब है कि हाल ही में राजधानी पटना में बिहार इंटर फेथ फोरम फॉर चिल्ड्रेन बीआईएफसी के तत्वावधान में यूनिसेफ, डब्ल्यूएचओ, सोशल मोबिलाइजेशन नेटवर्क के सहयोग से ऑन लाइन संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इसमें राज्य के 300 से अधिक आध्यात्मिक गुरु व धार्मिक संगठन के लोगों ने भाग लिया। संगोष्ठी में भाग लेने वाले प्रमुख लोगों में प्रोफ़ेसर सईद शाह शामीमउद्दीन अहमद मुनेमिआ, ब्रह्म कुमारी संगीता, बी.के. ज्योती, मौलाना अनिसुर रेहमान कासमी सहित अन्य ने रोजा व उपवास के दौरान टीका लेने से इसके खंडित होने के लोगों के भय को निराधार बताते हुए लोगों से बढ़ चढ़ कर टीका लेने की अपील की।

उलेमाओं की अपील का हुआ है असर :

मुस्लिम उलेमाओं द्वारा कही गई इन बातों के बाद जिला स्वास्थ्य विभाग उनके इस संदेश को समाज में व्यापक स्तर पर प्रचारित करने की मुहिम में जुटा हुआ है। जिला स्वास्थ्य समिति के डीपीएम रेहान असरफ ने कहा मुस्लिम उलेमाओं व शिक्षाविदों की राय सामने आने के बाद इसे लेकर लोगों के मन में बना भ्रम दूर हुआ है। डीपीएम रेहान असरफ ने कहा उलेमाओं की अपील के बाद रोजेदार टीका लगाने नजदीकी केंद्रों पर पहुंच रहे हैं।

रोजेदारों के टीकाकरण के लिये किये गये विशेष इंतजाम :

वैसे रोजेदार जो दिन में रोजा के दौरान टीका लगाना नहीं चाहें उनके लिये जिलाधिकारी प्रशांत कुमार सीएच के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा विशेष इंतजाम किये गये हैं। रोजा के दौरान अगर कोई व्यक्ति टीका नहीं लेना चाहे तो इसके लिये चिह्नित स्थलों पर संध्याकालीन सत्र संचालन का संचालन किया जा रहा है। डीपीएम रेहान असरफ ने बताया सदर अस्पताल परिसर स्थित टीकाकरण केंद्र व फारबिसगंज पीएचसी में संध्याकालीन टीकाकरण सत्र स्थल का संचालन किया जा रहा है। रोजा की समाप्ति के बाद शाम छह बजे से आठ बजे तक उक्त केंद्रों पर टीकाकरण की सुविधा सुनिश्चित करायी गयी है। धीरे-धीरे अन्य स्वास्थ्य केंद्रों पर भी संध्याकालीन सत्र के संचालन की जानकारी उन्होंने दी।

169 total views, 3 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »