http://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js उत्तर कोरिया के सनकी तानाशाह किम जोंग उन ने कहा , ‘न्यूक्लियर बम का बटन हमेशा मेरी जेब में रहता है’ – India News Live-INL NEWS LIVE NETWORK (P)LTD.

उत्तर कोरिया के सनकी तानाशाह किम जोंग उन ने कहा , ‘न्यूक्लियर बम का बटन हमेशा मेरी जेब में रहता है’

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन ने अमरीका को चेतावनी देते हुए कहा है कि न्यूक्लियर (परमाणु) बम को लॉन्च करने का बटन हमेशा उनकी डेस्क पर रहता है यानी ‘अमरीका कभी जंग शुरू नहीं कर पाएगा’.
टीवी पर अपने नए साल के भाषण में किम जोंग-उन ने बताया कि पूरा अमरीका उत्तर कोरिया के परमाणु हथियारों की ज़द में है और “यह धमकी नहीं, वास्तविकता है”.

हालांकि, पड़ोसी दक्षिण कोरिया को लेकर किम थोड़े नरम नज़र आए. उन्होंने संकेत दिया कि वे दक्षिण कोरिया के साथ “बातचीत के लिए तैयार हैं.”
किम ने बताया कि उत्तर कोरिया सोल में होने वाले विंटर ओलंपिक में टीम भेज सकता है.
उत्तर और दक्षिण कोरिया: 70 साल की दुश्मनी की कहानी:
जब उत्तर कोरिया ने अपनी पहली स्कड-बी मिसाइल दागी
छह परमाणु परीक्षण, कई मिसाइल टेस्ट
उत्तर कोरिया पर कई मिसाइल परीक्षणों और परमाणु कार्यक्रम की वजह से कई तरह की पाबंदियां लगाई गई हैं.
दुनिया के बहुत से देश उत्तर कोरिया से दूरी बनाए हुए हैं लेकिन उनकी परवाह किए बग़ैर उत्तर कोरिया छह अंडरग्राउंड परमाणु परीक्षण कर चुका है.
नवंबर 2017 में उसने ह्वासोंग-15 मिसाइल का परीक्षण किया. यह मिसाइल 4,475 किलोमीटर तक गई जो अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन से भी दस गुना ज़्यादा ऊंचाई है.
उत्तर कोरिया का दावा है कि उसके पास लॉन्च के लिए तैयार परमाणु हथियार हैं लेकिन अंतरराष्ट्रीय समुदाय के कुछ हलकों में ऐसी चर्चा रही है कि क्या उत्तर कोरिया के पास वाक़ई ऐसे हथियार हैं जैसा वो दावा करता है.
उत्तर कोरिया ने ‘ग़लती से’ लीक की दो मिसाइलों की जानकारी!
उत्तर कोरिया को उकसा रहा है अमरीका: रूस
‘बड़े पैमाने पर हथियार बनाने चाहिए’
नए साल के मौक़े पर दिए भाषण में किम जोंग ने हथियारों को लेकर अपनी नीति पर फिर ज़ोर दिया.
उन्होंने कहा, “उत्तर कोरिया को भारी मात्रा में परमाणु हथियार और बैलिस्टिक मिसाइल बनाने चाहिए और उन्हें तैनात करने का काम तेज़ी से करना चाहिए.”
किम ने इस साल दक्षिण कोरिया के साथ संबंध सुधरने की उम्मीद जताई.
2018 उत्तर और दक्षिण कोरिया के लिए एक अहम साल है. उत्तर कोरिया अपने 70 साल पूरे कर रहा है और दक्षिण कोरिया विंटर ओलंपिक का आयोजन.
उत्तर कोरिया पर ट्रंप की और कड़े प्रतिबंध की तैयारी:
उ. कोरिया के सामने इतना बेबस क्यों अमरीका?
दक्षिण कोरिया परबदला लहजा
दोनों देशों के लगातार तल्ख़ हो रहे संबंधों के मद्देनज़र किम जोंग-उन का बदला रवैया ध्यान खींचने वाला है.
किम जोंग ने कहा कि वे फ़रवरी में प्योंगयांग में होने वाले खेलों में ‘एक दल भेजने पर विचार कर रहे हैं’. ग़ौरतलब है कि दक्षिण कोरिया कह चुका है कि ‘ऐसे किसी क़दम का स्वागत किया जाएगा’.
किम ने कहा, “विंटर ओलंपिक में उत्तर कोरिया की भागीदारी एकजुटता दिखाने का बढ़िया मौक़ा होगी. हम दुआ करते हैं कि ये खेल पूरी सफलता से संपन्न हो.”
क्या उत्तर कोरिया में चिट्ठी भेजी जा सकती है?
‘दोनों देशों को तुरंत मिलना चाहिए’
पड़ोसी राष्ट्र पर बोलते हुए किम ने आगे कहा, “दोनों कोरियाई देशों के अधिकारियों को संभावनाएं तलाशने के लिए तुरंत मिलना चाहिए.”

Comments

comments

x

Check Also

Four injured jawans Airleft Infiltration bid foiled; intruder killed, four jawans injured

JB singh,POONCH: Morning Airfiled poonch Four injured jawans Airleft One heavily armed infiltrator was neutralised by the alert troops along ...